Personal Detail Leaked Check पर्सनल डाटा चुराने के लिए साइबर ठग लेते हैं Dark Web की मदद, कहीं आपकी पर्सनल डिटेल्स लीक तो नहीं हो रही सिर्फ 1 मिनट मे चेक करे ।

Personal Detail Leaked Check

Dark Web Personal Detail Leaked, What is Dark Web in Hindi, Dark Web Kya Hota hai, Dark Web Report Kaise Check Kare, dark web alert, about dark web in hindi, data leaked on dark web, dark web email check, dark web email scan free, dark web google one, dark web kya hota hai, आज कल इंटरनेट की दुनिया मे कुछ भी सुरक्षित नहीं है । वर्तमान मे साइबर ठगी बहुत ज्यादा होने लग गई । जब हम किसी वेबसाईट पर लॉगिन या अपनी कोई जानकारी सबमिट करते है तो साइबर ठग इन वेबसाईट से लोगों का पर्सनल डाटा चुरा कर ठगी करते है ।

Personal Detail Leaked Check
Personal Detail Leaked Check

साइबर ठग लोगों का पर्सनल डाटा चुराने के लिए Dark Web की मदद लेते है । डार्क वेब इंटरनेट की दुनिया का वो हिस्सा है, जहां तक आपका सर्च इंजन नहीं पहुंचता है. इन्हें स्पेशल वेब ब्राउजर से एक्सेस किया जा सकता है। डार्क वेब इंटरनेट का एक हिस्सा है जो लोगों को अन्य लोगों और कानून प्रवर्तन से अपनी पहचान और स्थान छिपाने की सुविधा देता है। परिणामस्वरूप, डार्क वेब का उपयोग चोरी की गई व्यक्तिगत जानकारी को बेचने के लिए किया जा सकता है।

Personal Detail Leaked : डार्क वेब पर होते हैं ये स्कैम

वर्तमान समय में सबसे बड़े साइबर फ्रॉड नौकरी दिलाने के नाम पर, सस्ते दर पर लोन दिलाने के नाम पर, बीमा और लैप्स इंश्योरेंस के नाम पर पैसे देने के नाम पर, पॉप अप ठीक करने के नाम पर होते हैं कंप्यूटर में वायरस, चाइल्ड पोर्नोग्राफ़ी। फर्जी टेलीफोन एक्सचेंज खोलने के नाम पर, कम दाम पर विदेश में बात करने के नाम पर, लकी ड्रा में कार गिफ्ट के नाम पर और लोगों को वीडियो कॉल के जरिए लड़कियों के साथ अश्लील वीडियो रिकॉर्ड करके विदेशी नागरिकों के साथ साइबर अपराध किए जा रहे हैं।

ये ऐसे अपराध हैं जिनमें साइबर अपराधी बड़ी आसानी से आम आदमी को फंसा लेते हैं और फिर उनसे मोटी रकम वसूल लेते हैं. साइबर अपराधी डार्क वेब के जरिए ज्यादातर लोगों का डेटा- नाम, नंबर और उनकी जानकारी इकट्ठा करते हैं और इसके लिए अच्छी खासी रकम भी खर्च करते हैं।

डार्क वेब पर कॉन्ट्रैक्ट किलिंग से लेकर हथियारों की तस्करी तक कई अवैध गतिविधियां होती हैं। डार्क वेब पर यूजर्स की निजी जानकारी लीक करने की धमकी देकर उनसे भारी रकम वसूली जाती है। डार्क वेब पर कई स्कैमर हैं जो प्रतिबंधित वस्तुओं को बहुत कम कीमत पर बेचते हैं। वहां सस्ते फोन खरीदने के चक्कर में कई लोग लाखों रुपये गंवा देते हैं.

How to Check Personal Detail Leaked Dark Web

अपनी पर्सनल जानकारियाँ अगर कहीं पर लीक हो रही है और आपको पता भी नहीं की आपकी पर्सनल डिटेल्स लीक हो गई । आप नीचे दी गई स्टेप्स की मदद से डार्क वेब पर लीक हुई जानकारी प्राप्त कर सकते है ।

  • सबसे पहले आपको अपने मोबाईल मे Google को ओपन कीजियें ।
  • इसमे ऊपर दायें तरफ आपको प्रोफाइल फोटो पर क्लिक करें ।
  • अब Google Account पर क्लिक करे। यहाँ आपको Security टैब पर क्लिक करना है ।
  • अब नीचे की और स्क्रॉल करें और See if your email address is on the dark web सेक्शन पर जाएं ।
  • यहाँ आपको Run a scan with Google One पर क्लिक करना है । और Run Scan पर क्लिक कर दे ।
  • अगर आपका पर्सनल डाटा लीक है तो Summary of Your Results मे View All Result पर क्लिक करे ।
  • अब यहाँ आपको पूरी लिस्ट दिखाई देगी किस वेबसाईट पर पर्सनल डिटेल्स देने के कारण डार्क वेब पर लीक हो रही है ।

Personal Detail Leaked होने से ऐसे करे बचाव

यह जांचने के लिए कि क्या आपकी व्यक्तिगत जानकारी डार्क वेब पर लीक हो गई है, इन चरणों का पालन करें:

Use a password manager: पासवर्ड मैनेजर का उपयोग आपके खातों को हैक होने से बचाने में मदद कर सकता है। पासवर्ड प्रबंधक आपके द्वारा उपयोग की जाने वाली प्रत्येक वेबसाइट के लिए मजबूत, अद्वितीय पासवर्ड बनाते हैं और उन्हें सुरक्षित रूप से संग्रहीत करते हैं। इससे आपके लॉगिन क्रेडेंशियल्स के डार्क वेब पर उजागर होने का जोखिम कम हो जाता है।

Enable two-factor authentication (2FA): जब भी संभव हो अपने सभी ऑनलाइन खातों के लिए 2FA सक्षम करें। दो-कारक प्रमाणीकरण सुरक्षा की एक अतिरिक्त परत जोड़ता है, जिसके लिए आपको अपने पासवर्ड के अलावा सत्यापन का दूसरा रूप, जैसे अस्थायी कोड या फिंगरप्रिंट प्रदान करने की आवश्यकता होती है। इससे साइबर अपराधियों के लिए आपके खातों तक पहुंचना कठिन हो जाता है, भले ही आपका पासवर्ड लीक हो गया हो।

अपने वित्तीय खातों की नियमित रूप से निगरानी करें: किसी भी संदिग्ध गतिविधि के लिए अपने बैंक खातों, क्रेडिट कार्ड और अन्य वित्तीय खातों पर कड़ी नज़र रखें। किसी भी अनधिकृत लेनदेन की सूचना तुरंत अपने वित्तीय संस्थान को दें।

अच्छी साइबर सुरक्षा आदतें अपनाएं: अच्छी साइबर सुरक्षा आदतें अपनाकर खुद को ऑनलाइन सुरक्षित रखें। इसमें प्रत्येक वेबसाइट के लिए मजबूत, अद्वितीय पासवर्ड का उपयोग करना, फ़िशिंग ईमेल और वेबसाइटों से सावधान रहना, अपने डिवाइस और सॉफ़्टवेयर को अद्यतित रखना और एंटीवायरस और एंटीमैलवेयर सॉफ़्टवेयर का उपयोग करना शामिल है।

जब भी आपके पास फोन आए कि मैं पुलिस, साइबर सेल, इनकम टैक्स या किसी अन्य विभाग से बात कर रहा हूं तो तुरंत विश्वास न करें, पहले इसकी जांच करें और फिर उनसे बात करें।

और सबसे बड़ी बात तो ये है कि अगर पैसों की डिमांड हो तो आपको समझ जाना चाहिए कि आपके साथ कोई न कोई धोखाधड़ी होने वाली है. कोई भी सरकारी कर्मचारी या अधिकारी आपसे फोन पर पैसे की मांग नहीं कर सकता. इसके साथ ही किसी भी अनजान नंबर से व्हाट्सएप पर आने वाले वीडियो कॉल या ऑडियो कॉल को न ही उठाएं तो बेहतर है। अगर आपके पास मैसेज के जरिए कोई ओटीपी या कोई लिंक आ रहा है तो उसे शेयर न करें।

रीड ऑल्सो: SBI Bank Account Open Online बिना बैंक जाएं घर बैठे सिर्फ 5 मिनट खोले ज़ीरो बैलेंस एसबीआई बैंक खाता। ये रहे सबसे आसान तरीके

सबसे ज्यादा आपको सतर्क रहने की जरूरत है कि आपका जागरूक रहना बहुत जरूरी है। आप खुद सोचिए कि जब आपने किसी बड़े टैलेंट शो में हिस्सा नहीं लिया, कोई लॉटरी टिकट नहीं खरीदा तो अचानक आपकी लॉटरी कैसे लग गई या आपका कहीं चयन कैसे हो गया. जैसे ही आप इन सभी बातों पर विचार करेंगे तो आपको तुरंत अपराध का पता चल जाएगा।

Get Latest UpdateClick Here
WebsiteClick Here